Breaking News

30 सालो से न्याय के लिए भटक रही महिला ने सुनाई अपनी आपबीती , पति जबरदस्ती पिलाता है पेशाब परेशान महिला ने मांगी इच्छा मृत्यु

Spread the love

30 सालो से न्याय के लिए भटक रही महिला ने सुनाई अपनी आपबीती, मांगी इच्छा मृत्यु

छत्तीसगढ़-

दंतेवाड़ा जिले के बचेली की रहने वाली एक पीड़ित महिला का दिल दहला देने वाली खबरें सामने आई है जिसमें पीड़िता ने उसके पति द्वारा जो की बंगाली श्रीकाली पदसरकार किंदुल जिला दंतेवाड़ा का निवासी है पति द्वारा किए गए भयावह कृत उजागर किया है पीड़िता का कहना है कि पति पेशे से एक शिक्षक है जो कि बड़ी निर्दयता से उसके साथ भयावह कृत करता है महिला का कहना है कि पति उसके पैरो के बीच दो टेबल रखकर उसके दोनो हाथो को बांध एवं मुंह कपड़े से बांध देता था और उसके प्राइवेट पार्ट में लकड़ी डालता था तथा महिला के वक्षस्थल को बड़ा करने के लिए खिड़की से उसके दोनो वक्षों को बांध देता था पीड़िता का ये भी कहना हैं की उसका पति उसे अपनी पेशाब और वाइट डिस्चार्ज भी जबरदस्ती पिलाता था माना करने पर उसे मरता व गालीगलोज भी करता तथा दहेज की भी मांग करता था जिसमे उसने पीड़िता के परिवार से 25 हजार रुपए नगद और एक मोटर साईकिल की मांग की थी,पीड़िता ने ये भी बताया के उसके पति ने बिना तलाक दिए दूसरी शादी कर ली है

,पति उसे यह भी कहा करता था कि वह स्कूल शिक्षा प्रदान करने नहीं बल्कि छात्राओं के वक्षस्थल को देखने जाता है तथा घर पर महिला को शारीरिक पीड़ा भी देता है पीड़िता ने यह भी कहा है कि उन्होंने महिला आयोग कोर्ट कचहरी की भी दौड़ लगाई लेकिन उसे किसी भी तरह का कोई भी इंसाफ नहीं मिला पीड़िता ने मोदी सरकार द्वारा बेटी बचाओ अभियान जो चलाया है उसपर नाराजगी जताते हुए यह भी कहा हैं की 30 सालो से जो बेटी न्याय के लिए रो रही है उसके लिए सरकान ने क्या किया है मेरी जैसी और भी कई बेटियां हैं जो न्याय के लिए दरदर भटक रही है,
पीड़िता ने थकहार कर मोदी सरकार राष्ट्रपति और छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री से न्याय की भीख मांगी है और इच्छा मृत्यु की भी याचना कर रही है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES