Breaking News

लोकसभा चुनाव 2024: उत्तराखंड में थम गया चुनाव प्रचार का शोर, पोलिंग पार्टियां हुई रवाना |

1 0
Spread the love

लोकसभा चुनाव 2024: उत्तराखंड में थम गया चुनाव प्रचार का शोर, पोलिंग पार्टियां हुई रवाना |

राज्य में लोकसभा चुनाव प्रचार का शोर बुधवार की शाम पांच बजे थम गया। इसके साथ ही प्रदेश में शराबबंदी लागू हो गई है। मतदान संपन्न होने तक शराब की बिक्री और लाने-ले जाने पर प्रतिबंध रहेगा। उधर, बुधवार को 703 पोलिंग पार्टियां मतदान संपन्न कराने के लिए रवाना कर दी गईं।

अपर मुख्य निर्वाचन अधिकारी विजय कुमार जोगदंडे ने बताया, कुल 11,729 पोलिंग पार्टियां मतदान में लगेंगी। उन्होंने बताया, 15 हजार पार्टियां तैयार की गईं थीं। एक पोलिंग पार्टी में चार सदस्य शामिल हैं। बताया, पहले दिन 12 पोलिंग पार्टियां भेजी गई थीं। बुधवार को 703 और रवाना कर दी गईं। इनमें पौड़ी गढ़वाल की 181, अल्मोड़ा की 136 और देहरादून की 122 पोलिंग पार्टियां शामिल हैं।

मतदान से एक दिन पहले बृहस्पतिवार को 11,008 पोलिंग पार्टियां अपने गंतव्य को रवाना की जाएंगी। 55 हजार से ज्यादा कर्मचारी पोलिंग पार्टियों में शामिल हैं। राज्य में बुधवार की शाम पांच बजे से चुनाव प्रचार का शोर थम गया। अब प्रत्याशी बृहस्पतिवार को केवल डोर-टु-डोर प्रचार कर सकेंगे। वहीं, मतदान संपन्न होने तक राज्य में शराबबंदी लागू रहेगी।

पीडीएमएस पर सभी सूचनाएं
पोलिंग पार्टियां अपने आवागमन से लेकर मतदान की पूरी जानकारी पोलिंग डे मैनेजमेंट सिस्टम पोर्टल पर एप के माध्यम से अपलोड करेंगे। मतदान के दिन भी हर दो घंटे का मतदान प्रतिशत यहां अपलोड करना होगा। चुनाव आयोग को हर पोलिंग पार्टी की पूरी जानकारी इस एप के माध्यम से उपलब्ध है। राज्य के 5,892 पोलिंग बूथों की लाइव वेबकास्टिंग की जाएगी, जिसे जिलों के अलावा राज्य स्तरीय कंट्रोल रूम में भी देखा और सुना जा सकेगा।

और पढ़े   नैनीताल- उपराष्ट्रपति जगदीप धनखड़ पहुंचें कैंची धाम में ,चंदन लगाकर किया स्वागत ।

18 हजार कर्मियों ने पोस्टल बैलेट से किया मतदान
अब तक 18 हजार कर्मचारियों ने पोस्टल बैलेट से मतदान किया है। 47 हजार कर्मचारियों ने फॉर्म 12-ए लिया है, जिसके तहत वह अपने मतदेय स्थल पर जाकर मतदान कर सकेंगे। वहीं, 85 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के 65,160 में से 9,993 ने फॉर्म 12-डी भरा था, जिनमें से 9,400 से अधिक ने मतदान किया है। 80,335 दिव्यांग मतदाताओं में से 2,899 ने फॉर्म 12-डी लिया था, जिनमें से 2,812 ने मतदान किया है।

मतदान संपन्न कराने के लिए 15 हजार ईवीएम की व्यवस्था
राज्य में लोकसभा चुनाव के लिए 15 हजार ईवीएम और वीवीपैट लगाई गई हैं। 19 अप्रैल को 55 प्रत्याशियों का भाग्य इनमें कैद हो जाएगा। मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ. बीवीआरसी पुरुषोत्तम ने बताया, प्रदेश में शुक्रवार को मतदान सुबह सात बजे से शाम पांच बजे तक होगा। शाम पांच बजे तक जो मतदाता मतदेय स्थल के भीतर प्रविष्ट हो जाएंगे, वह वोट डाल सकेंगे।

इतने कर्मचारी लगे सुरक्षा में
मतदान के दौरान सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद रहेगी। 65 कंपनी सीएपीएफ लगाई गई हैं। राज्य की 20 कंपनी पीएसी लगाई गई हैं। 15 हजार होमगार्ड के जवान भी ड्यूटी पर रहेंगे, जिनमें से नौ हजार जवान यूपी, दो हजार हिमाचल, दो हजार दिल्ली और दो हजार हरियाणा से आए हैं।

Happy
Happy
100 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *